एक नजर में प्यार, इनकार करने पर सगाई से कुछ घंटे पहले फिल्मी स्टाइल में युवती का किया अपहरण, युवती के पिता पर किया हमला

India News Desk:

हैदराबाद: तेलंगाना के हैदराबाद में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। यह कहानी बिल्कुल फिल्मी है। युवक ने एक कार्यक्रम में युवती को देखा और एक नजर में प्यार हो गया। युवती के घरवालों ने शादी से इनकार कर दिया। युवक ने युवती के घर के पास ही घर बनाया और उस पर नजर रखने लगा। युवती के घरवालों ने उसकी शादी तय कर दी तो युवक ने फिल्मी स्टाइल में ही युवती की सगाई से कुछ घंटे पहले ही उसके घर में घुसकर अपहरण कर लिया। इस दौरान वह लगभग 100 लोगों को लेकर आया। चारों तरफ से घर घेरा, तोड़फोड़ की और युवती को उठाकर ले गया। हालांकि फजीहद के बाद पुलिस ने लगभग 8 घंटे बाद युवती को बरामद कर लिया लेकिन युवक अभी भी फरार है।

कारों और ट्रक के काफिले में आए बदमाशों के पास हथियार थे। वे डेंटल हाउस सर्जन के दो मंजिला आवास के पास पहुंचे। घर को चारों तरफ से घेर लिया। कुछ गुंडे अंदर घुसे और 30 मिनट तक बर्बरता करते रहे। उन्होंने घर में मौजूद लोगों को जमकर पीटा। इस दौरान युवती के पिता समेत पांच लोगों को गंभीर चोटें आई हैं।

तेलंगाना पुलिस को बार-बार किया गया कॉल
इस भयानक घटना के दौरान पड़ोसियों ने बार-बार एसओएस कॉल की। पुलिस से कई बार मदद मांगने के बावजूद पुलिस नहीं पहुंची। डकैतों ने पहचान छिपाने के लिए सीसीटीवी कैमरों को तोड़ दिए। घर में रखे कंप्यूटर, डाटा सॉफ्टवेयर सब तहस-नहस कर दिया। फर्नीचर तोड़ डाले और संपत्ति को भारी नुकसान पहुंचाया।

देखें अपहरण का वीडियो

8 घंटे बाद बरामद युवती
युवती की फिल्मी स्टाइल में किडनैपिंग का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। पुलिस तक सूचना पहुंची। इतनी बड़ी घटना से पुलिस के हाथपांव फूल गए। युवती वैशाली की खोज शुरू हुई। लगभग 8 घंटे की भीषण खोज के बाद देर रात शहर के बाहरी इलाके से युवती को बरामद कर लिया गया।

महंगे बेवरेज आउटलेट का है मालिक
बताया जा रहा है कि नवीन रेड्डी महंगे बेवरेज आउटलेट मिस्टर टी का मालिक है। वह वैशाली को प्यार करता था। जब उसे पता चला कि उसकी सगाई हो रही है तो उसने किडनैपिंग की योजना बनाई। नवीन रेड्डी ने वैशाली को ऊपरी मंजिल के कमरे से सीढ़ियों से नीचे खींच लिया और उसे एक कार में ले गया। पुलिस ने देर रात के ऑपरेशन में उसका पता लगाया और 8 डकैतों को गिरफ्तार किया। मुख्य आरोपी नवीन अभी भी फरार है।

युवती के पिता पर हमला
युवती के पिता दामोदर रेड्डी ने कहा, ‘मेरी बेटी की सगाई दोपहर में होनी थी, लेकिन उसका अपहरण कर लिया गया और सुबह 11:30 बजे एक कार में ले जाया गया। सिर पर लोहे की रॉड से वार किए जाने के बाद मैं होश खो बैठा। जब तक मुझे होश आया वैशाली गायब थी। परिवार के कई सदस्यों पर भी हमला किया गया।’ निवासियों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनकी कॉल का जवाब नहीं दिया और इससे भीड़ का मनोबल बढ़ा।

युवत के आउटलेड को लोगों ने लगाई आग
बाद में, प्रदर्शनकारियों ने आरोपी की चाय की दुकान में आग लगा दी, जिसने सागर राजमार्ग को भी जाम कर दिया, जिससे जाम लग गया। भीड़ की बर्बरता और वैशाली के परिवार पर हमला मोबाइल फोन और एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। गुंडों ने उसके घर के पास सड़क पर खड़ी कारों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया और राहगीरों को धमकाया।

ऐसे वैशाली से मिला था नवीन
वैशाली के परिवार ने कहा कि उनकी बेटी नवीन से कुछ महीने पहले एक स्थानीय बैडमिंटन टूर्नामेंट में मिली थी। बाद में, नवीन ने वैशाली के माता-पिता को उससे शादी करने की इच्छा जताई थी। उन्होंने बताया, ‘जब मैंने अपनी बेटी की राय मांगी, तो उसने प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया। जल्द ही, नवीन ने राजनीतिक नेताओं के माध्यम से दबाव बनाना शुरू कर दिया, लेकिन हमने साफ कहा कि हमें कोई दिलचस्पी नहीं है। इससे नाराज होकर नवीन ने उनके आवास के पास निर्माण कार्य शुरू कर दिया और उसका पीछा करना और परेशान करना शुरू कर दिया।’ वैशाली के पिता ने एक आपराधिक मामला दर्ज किया, लेकिन कई बार याद दिलाने के बावजूद पुलिस ने चार्जशीट दायर नहीं की।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *