चाणक्य के अनुसार इन 5 जगहों पर नहीं बितानी चाहिए रात

Indian News Desk:

Chanakya Niti : चाणक्य के अनुसार इन 5 जगहों पर नहीं बितानी चाहिए रात

HR BREAKING NEWS DELHI : Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य विद्वान होने के साथ ही महान शिक्षक भी थे, उनके द्वारा बताई गई नीतियों को अपनाकर जीवन में सफलता पाई जा सकती है. आचार्य चाणक्य ने विश्वप्रसिद्ध तक्षशिला विश्वविद्यालय में शिक्षा ग्रहण की थी. चाणक्य नीति में पैसा, सेहत, बिजनेस, दांपत्य जीवन, समाज और जीवन में सफलता से जुड़ी चीजों के बारे में जानकारी दी गई है. अगर कोई भी व्यक्ति इन बातों को अपने जीवन में अपना ले, तो वह सफतला के नए मुकाम हासिल कर सकता है. 
चाणक्य नीति में आचार्य चाणक्य ने कुछ ऐसी जगहों के बारे में बताया है, जहां पर एक रात भी रुकना समस्याओं को न्योता देने के बराबर होता है. ऐसी 5 जगहों पर भूलकर भी कभी रात नहीं बितानी चाहिए. ऐसी जगह पर रुकने से परेशानियां आ सकती हैं. 

धनिक:श्रोत्रियो राजा नदी वैद्यस्तु पंचम:
पंच यत्र न विद्यन्ते तत्र दिवसं न वसेत्

इस श्लोक का मतलब है ऐसी जगह जहां कोई धनी, विद्वान, राजा, चिकित्सक या नदी न बहती हो, ऐसे स्थान पर व्यक्ति को कभी भी रात नहीं बितानी चाहिए. 

आचार्य चाणक्य के अनुसार जिस जगह पर हमेशा धन की समस्या बनी रहती हो, वहां पर कभी भी कोई भी समस्या आ सकती है, इसलिए किसी भी व्यक्ति को ऐसी जगह पर रात नहीं बितानी चाहिए. 

विद्वान व्यक्ति का पास होना आपको सभी प्रकार की मुश्किलों से बचाता है, जिस जगह पर कोई भी विद्वान व्यक्ति निवास नहीं करता हो वो किसी भी मनुष्य के लिए उपयुक्त जगह नहीं होती. ऐसी जगह पर कभी भी निवास नहीं करना चाहिए. 

READ  स्त्री करने लगे ये इशारे तो इस काम के लिए है तैयार, ना करें देरी

बीमारी के आने का कोई भी वक्त नहीं होता, अगर आपके रुकने वाली जगह पर कोई भी चिकित्सक नहीं हो तो आपको वहां कभी भी नहीं रुकना चाहिए. ऐसी जगह पर रुकना मौत को आमंत्रण देने के समान है. 

जल की मनुष्य के जीवन का आधार है, जिस जगह पर जल का स्त्रोत नहीं हो व्यक्ति को ऐसी जगह पर कभी भूलकर भी नहीं रुकना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *